SmartPayServices Adding/Updating Bank Account

SmartPayServices Adding/Updating Bank Account

  1. क्या आप SmartPayServices के नए रिटेलर है?
  2. क्या आपने अभी भी बैंक खाता जोड़ा नहीं  है?
  3. क्या आप अपने जोड़े गए बैंक खाते को अपडेट करना चाहते हैं?

यदि उपरोक्त प्रश्नों का उत्तर “हां” है, तो यह पोस्ट आपके लिए है। इस पोस्ट के माद्यम से आप जानेंगे की स्मार्टपे सर्विसेस में बैंक खाता कैसे जोड़ा जाता है।?

ग्राहकों के पैसे विथड्रावल करने पर रिटेलर के वॉलेट में कलेक्ट होते है। जब ग्राहकों के विथड्रावल किये गए पैसे रिटेलर अपने वॉलेट से Cashout करना चाहता है, तब रिटेलर को अपने SmartPayServices आईडी से एक बैंक अकाउंट जोड़ना आवश्यक है। जिससे cashout करने पर पैसे रिटेलर के बैंक खाते में जमा हो जाते है। और वह जब चाहे वह पैसे अपने बैंक से विथड्रॉ  सकता है।

ग्राहकों द्वारा पैसे निकालने के बाद, उस पैसे को तुरंत रिटेलर के वॉलेट में एकत्र किया जाता है, इसी तरह, रिटेलर अपनी वित्तीय क्षमता के अनुसार ग्राहकों के बैंक खाते से पैसे निकालता है और जब रिटेलर को नकदी की कमी की समस्या का सामना करना पड़ता है, तो रिटेलर को वॉलेट में एकत्रित धन को नकदी में बदलने की आवश्यकता होती है।

How to Cash-out in SmartPayServices?

इस निकासी के पैसे को नकदी में बदलने के लिए, रिटेलर को इस पैसे को अपने बैंक में स्थानांतरित करना होगा। अगर रिटेलर इस पैसे को मनी ट्रांसफर सर्विस के जरिए ट्रांसफर करता है, तो ज्यादा चार्ज देना होगा। इन अतिरिक्त शुल्क को कम करने के लिए SmartPayServices में “कैशआउट” नामक एक सेवा उपलब्ध है।

What is a cash-out service?

“Cashout” सेवा का उपयोग करके पैसा स्वयं के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए, रिटेलर को अपने स्मार्टपे आईडी में एक बैंक खाता जोड़ना होगा। एक बार बैंक खाता जुड़ जाने के बाद, आवश्यकता नुसार रिटेलर कैशआउट करके, जब चाहे अपने बैंक से पैसे निकाल सकता है।

यह भी पढ़े : SmartpayServices में Cashout (Move To Bank) कैसे किया जाता है ?

बैंक खाते को जोड़ने के लिए, खुदरा विक्रेता (Retailer) को वेबसाइट के माध्यम से अनुरोध करना होगा, अनुरोध के 24 घंटे बाद, बैंक खाते को स्मार्टपे आईडी से जोड़ा जाएगा।

आइए देखें कि स्मार्टपे आईडी से बैंक खाते को कैसे जोड़ा जा सकता है – 

१. अपने ब्राउज़र में https://smartpayservice.in/ यह लिंक खोले और लॉगिन करे। लॉगिन करने के बाद टॉप राइट साइड पर यूजर आइकॉन पर क्लिक करे।[vc_single_image image=”16069″ img_size=”full” alignment=”center” onclick=”link_image”]२. यूजर आइकॉन पर क्लिक करने पर एक सबमेनु पॉपअप होगा, Setting मेनू पर क्लिक करे।[vc_single_image image=”16070″ img_size=”full” alignment=”center” onclick=”link_image”]३. इस चरण में Add Bank Account पर क्लिक करे।[vc_single_image image=”16071″ img_size=”full” alignment=”center” onclick=”link_image”]३. इस चरण में Add Account पर क्लिक करे।[vc_single_image image=”16072″ img_size=”full” alignment=”center” onclick=”link_image”]३. इसस्टेप में बैंक डिटेल्स दर्ज करे।

  • पहले बॉक्स में रिटेलर का बैंक का नाम दर्ज करे।
  • IFSC कोड दर्ज करे।
  • बैंक का अकाउंट नंबर दर्ज करे

ये सभी डिटेल्स दर्ज करने पर एक बार पुष्टि करले की आपने जो डेटा दर्ज किया है वह सही है। और अंत में फॉर्म सबमिट कर दे। २४ घंटे के अंदर बैंक खाता स्मार्टपे आईडी से लिंक हो जायेगा।

ध्यान दे : बैंक खातों को लिंक करने के अनुरोधों के लिए सेवा शुल्क लगाया जाता है।[vc_single_image image=”16073″ img_size=”full” alignment=”center” onclick=”link_image”]

रिटेलर्स इस प्रक्रिया का पालन करके भविष्य में किसी भी समय अपने बैंक विवरण बदल सकते हैं।

Written by

Nandeshwar Katenga

Nandeshwar Katenga is a dynamic figure in the digital world, combining a foundation in Computer Programming with a passion for Digital Marketing, Web/App development, Personal finance, and blogging. His diverse skill set creates a unique blend of expertise that sets him apart in the tech world.

Leave a Comment

We would like to keep you updated with special notifications. Optionally you can also enter your phone number to receive SMS updates.