AEPS - Aadhar Enabled Payment System

Section 194N TDS Amendment PDF Download

Section 194N – TDS on cash withdrawal

वर्ष 2020 के बजट के नए प्रस्ताव के अनुसार, ऐसे करदाता जो पिछले तीन वर्षों से अपना आयकर रिटर्न दाखिल नहीं किया है,उनके लिए टीडीएस की सीमा को घटाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया है। यदि आप पिछले तीन वर्षों से इनकम टैक्स फाइल नहीं किया है, तो एक वित्तीय वर्ष में 20 लाख से अधिक नगद निकाशी करने पर आपके बैंक अकाउंट से 2% के हिसाब से TDS कटा जायेगा।

इससे पहले, केंद्रीय बजट 2019 में नकद भुगतान को हतोत्साहित करने और डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए 1 करोड़ रुपये से अधिक की नकद निकासी पर Tax Deducted at Source(TDS) की कटौती के लिए धारा 194N की शुरुआत की है।

Related Articles

आइये इसे संक्षिप्त में समझने की कोशीश करते है।

What is Section 194N – TDS?

यदि आप एक वित्तीय वर्ष में 1 करोड़ से अधिक रकम नगद निकासी करते है या फिर किसी व्यक्ति को भुगतान करते है, तो आपके आपके बैंक खाते से 2% के दर से बैंक द्वारा  TDS काटा जायेगा।

उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति के 4 अलग-अलग बैंकों में 4 बैंक खाते हैं, वह बिना किसी TDS के 1 करोड़ x 4 = 4 करोड़ रुपये की नकद निकासी कर सकता है।

यदि आपको किसी थर्ड पार्टी द्वारा चेक में पेमेंट किया जाता है, इस स्थिति में आप कोई बैंक अकाउंट होल्डर नहीं है। इस मामले बैंक आपको पेमेंट नहीं कर रही है बल्कि थर्ड पार्टी पेमेंट कर रहा है, इसलिए, इस कैसे में Section 194N लागु नहीं होगा।

एक वित्तीय वर्ष के दौरान 1 करोड़ रुपये से अधिक की नकद निकासी के मामले में धारा 194N लागू होगा। यह खंड एक वित्तीय वर्ष में किसी विशेष भुगतानकर्ता से निकाली गई सभी राशि या कुल राशि पर लागू होगा। जैसे –

    • एक व्यक्ति
    • एक हिंदू अविभाजित परिवार (HUF)
    • कंपनी
    • पार्टनरशिप फर्म या LLP
    • स्थानीय अधिकारी
    • व्यक्तियों का संघ (AOPs) या व्यक्तियों का निकाय (BOIs)
    • Private Bank या फिर Public Sector Bank
    • को-ऑपरेटिव बैंक
    • पोस्ट ऑफिस

Section 194N पेश करने का उद्देश्य –

सरकार ने 5 जुलाई 2019 को प्रस्तावित केंद्रीय बजट 2019 में धारा 194N पेश की है। देश में नकद लेनदेन को हतोत्साहित करने और डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए, ‘Section 194N’ पेश किया गया है।
यदि आप कोई भी बैंक, को – ऑपरेटिव बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस से निर्धारित राशी से ज्यादा अमाउंट निकासी करते है तो सेक्शन 194N लागु होगा।

इस धरा के तहत निम्न दिए सूचि के व्यक्ति या व्यक्तियों के समूह को TDS 194N लागू नहीं होगा।

  • गवर्नमेंट बॉडी
  • बैंक्स
  • BC Agent (business correspondent)
  • वाइट लेबल एटीएम संचालक
  • सरकार द्वारा अधिसूचित कोई अन्य व्यक्ति

इसे भी पढ़े : Railway act 1989 section 143 in Hindi

What is the point of TDS under Section 194N?

भुगतानकर्ता को एक वित्तीय वर्ष में 1 करोड़ रुपये से अधिक का नकद भुगतान करते समय भुगतानकर्ता द्वारा टीडीएस काट लिया जाएगा। यदि प्राप्तकर्ता नियमित अंतराल पर एक राशि निकालता है, तो भुगतानकर्ता को उस राशि से टीडीएस काटना होगा, जब एक वित्तीय वर्ष में कुल राशि 1 करोड़ रुपये से अधिक हो जाती है।

साथ ही एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि पर टीडीएस लगेगा। उदाहरण के लिए, यदि कोई व्यक्ति वित्तीय वर्ष में कुल मिलाकर 99 लाख रुपये निकालता है और अगली निकासी में 1,50,000 रुपये की राशि निकाल ली जाती है, तो टीडीएस देयता केवल 50,000 रुपये की अतिरिक्त राशि पर होती है।

Rate of TDS under Section 194N

धारा 194N के तहत भुगतानकर्ता को एक वित्तीय वर्ष में 1 करोड़ रुपये से अधिक के नकद भुगतान/निकासी पर 2% की दर से टीडीएस काटना होगा। इस प्रकार, उपरोक्त उदाहरण में, टीडीएस 50,000 रुपये पर 2% यानी 1,000 रुपये पर होगा।

यदि धन प्राप्त करने वाले व्यक्ति ने वर्ष से ठीक पहले तीन वर्षों के लिए आयकर रिटर्न दाखिल नहीं किया है, तो कर कटौती की सीमा 20 लाख रुपये है। टीडीएस 20 लाख रुपये से अधिक और 1 करोड़ रुपये तक के नकद भुगतान/निकासी पर 2% और 1 करोड़ रुपये से अधिक की निकासी के लिए 5% है।

Note:

  1. नकद प्राप्त करने वाला बैंक को फ़ॉर्म संख्या 15G/15H नहीं दे सकता है और धारा 197 के तहत कम कटौती प्रमाणपत्र के लिए आवेदन नहीं कर सकता है।
  2. वर्षों से ठीक पहले के तीन वर्षों की गणना करते समय, यदि धारा 139(1) के तहत रिटर्न की तिथि समाप्त नहीं हुई है, तो उस निर्धारण वर्ष गणना नहीं होगी।
  3. धारा 194N तब लागू होती है जब एक ही बैंक में रखे गए एक या अधिक खातों से राशि निकाली जाती है।
  4. यदि कई बैंक खाते हैं, तो कर कटौती की सीमा अलग-अलग बैंकों पर आधारित होगी।

nandeshkatenga

लेखक एक Computer Engineer हैं, और 2016 से AePS के क्षेत्र में रिटेलर, डिस्ट्रीब्यूटर, सुपर डिस्ट्रीब्यूटर के रूप में काम कर रहे है। टेक्निकल, मार्केटिंग, प्रोग्रामिंग आदि सम्बंधित ब्लॉग लिखना भी पसंद करते है। आप उनसे [email protected] और +919834754391 (व्हाट्सप्प) पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Our customer support team is here to answer your questions. Ask us anything!
WeCreativez WhatsApp Support
Admin
Nandeshwar
Available