What is IRDA – Hindi

Insurance Regulatory and Development Authority (IRDA) क्या है?

IRDA भारत की नियामक संस्था है जो जीवन बीमा और सामान्य बीमा दोनों कंपनियों को नियंत्रित करती है। भारत एक बड़ा देश है जिसमें बीमा क्षेत्र एक अच्छा अवसर प्रदान करता है।

आइए हम IRDA की अवधारणा को सरल तरीके से समझते हैं। भारत एक संयुक्त परिवार की अवधारणा का गवाह है जहां परिवार का मुखिया, दादा-दादी या फिर माता-पिता होते हैं, जो परिवार के प्रत्येक सदस्य को सुरक्षित रखने का प्रयास करते है।

परिवार का मुखिया सभी सदस्यों की जरूरतों का ध्यान रखता है और परिवार को एकजुट रखने की कोशिश करता है। वह सभी के साथ समान व्यवहार करता है और संकट में परिवार को मदद करता है।

जिस तरह परिवार का मुखिया घर चलाता है, उसी प्रकार IRDA अपने निर्धारित नियमों और दिशानिर्देशों के अनुसार भारतीय बीमा उद्योग चलाता है। बीमा उद्योग के क्रमिक विकास को विनियमित करना, बढ़ावा देना और पॉलिसीधारकों के हितों की रक्षा करना, IRDA का मुख्य उद्देश्य है।

IRDA संस्था का उद्देश्य क्या है ?

भारत  में पहली जनरल इंश्योरेंस कंपनी वर्ष 1850 में स्थापित की गई। जल्द ही, कई बिमा कंपनियां जीवन और गैर-जीवन दोनों क्षेत्रों में उभरने लगे, इसका परिणाम – बाजार में प्रतिस्पर्धा बढ़ने लगा।

प्रत्येक कंपनी ने अपनी दरों और नियमों पर व्यवसाय का अभ्यास किया। इसने ग्राहकों को असुरक्षित बना दिया जिससे बीमा बाजार की विश्वसनीयता दांव पर लग गई। जैसे ही सरकार को इस तथ्य का एहसास हुआ, उन्होंने पहले ग्राहक के हित को सुरक्षित करने के बारे में सोचा और इसलिए IRDA नामक एक स्वतंत्र नियामक संस्था की स्थापना की गई।

समय के साथ, नई मांगें लुढ़क गईं और बाजार कई बीमा उत्पादों से भर गया। जैसे परिवार के मुखिया, अपने परिवार को किसी प्रकार की नुकसान से बचाने के लिए कार्य करता है, उसी तरह आईआरडीए बीमा उद्योग और अन्य संबंधित गतिविधियों के विकास की निगरानी करता है।

यह भी पढ़े : हमें बीमा पॉलिसी की आवश्यकता क्यों है?

Function of IRDA

जो नियम को तोड़ता है और शांति भंग करता है, उसे तुरंत जांचने की जरूरत है। इसी प्रकार, IRDA विभिन्न परिस्थितियों में नीचे बताए अनुसार कार्य करता है।

IRDA एक स्वायत्त संस्था है जिसके पास ग्राहकों को नुकसान से बचाने के लिए बीमा बाजार में उचित व्यवहार को विनियमित करने का एकमात्र मिशन है। बीमा उद्योग को अब 2020 तक $280 US बिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है। अभी एक लंबा रास्ता तय करना है और इसलिए IRDA के कार्यों की सख्त आवश्यकता है। 

यह भी पढ़े : 8 Types of Insurance Policies

बीमा सेक्टर में IRDA की भूमिका

Written by

Nandeshwar Katenga

Nandeshwar Katenga is a dynamic figure in the digital world, combining a foundation in Computer Programming with a passion for Digital Marketing, Web/App development, Personal finance, and blogging. His diverse skill set creates a unique blend of expertise that sets him apart in the tech world.

Leave a Comment

We would like to keep you updated with special notifications. Optionally you can also enter your phone number to receive SMS updates.